आँखों की रौशनी बढ़ने के उपाय और चस्मा उतरने के उपाय।



    दुनिया में आज 60% से 70% लोग आँखों की बीमारी से पीड़ित है। आंख एक अपने शरीर का सबसे अहम् हिस्सा है। उसकी देखभाल के लिए हमें थोड़ी सी भी लापरवाही नहीं करनी चाहिए। बिना आँख के आपका जीवन अंधकारमय होगा। इसी लिए आँख की देखभाल में हमें कोई कमी नहीं करनी चाहिए। यहाँ में पहले आपको ये दिखाऊंगा की आँखों की देखभाल कैसे करनी चाहिए।
- अपनी आँखों को दिन में तीन से चार बार धोए
- धूम्रपान करे
- पानी ज्यादा पिए
- आँखों के स्वास्थ्य के लिए विटामिन-A बहुत जरुरी होता है ,इसीलिए आप विटामिन-A से भरपूर आहार ले।
   विटामिन-A  में अंडा,मच्छी,आलू,गाजर,पपैया,आमआदि खाद्य चीजों का समावेश होता है।
- अगर आपको लगता है की आँखों किसी प्रकार की तकलीफ है तो तुरंत डॉक्टर को दिखाए और उसकी सारवार ले।
- धुप में बहार जाने से पहले चश्मे लगाए। क्यों की जो उल्ट्रावॉयलेट किरणे होते है वो आपकी आँखों को नुकशान पोहचा सकते है।
- स्मार्टफोन या कंप्यूटर का उपयोग आप अँधेरे में करे।
- अगर आप बेतुपार्लोर में जाते हो तो वह जो क्रीम आपके चहरे पे लगाई जाती है वो अच्छी क्वॉलिटी की होनी चाहिए।



  अपनी आँखों में बिना वजह पानी आना ,पढ़ते समय ठीक दिखाय नहीं देना,रात को अच्छी तरह दिखाय नहीं देना,बिना चश्मे सर दर्द रहना ये सब आँखों की बीमारी  के लक्षण है।  अगर इन में से आपको कोई भी समस्या है तो तुरंत उसका उपचार करे।
ज्यादातर लोग ये सोचते है की जब किसीको चस्मा लगता है तो उसे जिंदगीभर चस्मा ही पहन के रहना होगा। ये सच नहीं है। अगर आप खाने-पिने में ध्यान देते हो यानि की अपनी आँखों की बीमारी के सबंधित डाइट फॉलो करते हो ,और अपनी आँखों को बेहतर बनाने के लिए अपनी आँखों को अच्छी तरह सँभालते है तो ये आँखों की समस्या कुछ समय के लिए ही होगी।
    आँखों की रौशनी बेहतर रखने के घरेलु नुस्खे।


1. सौंफ और खीरे का पेस्ट

    पहले आप सौंफ को थोड़ी देर के लिए पानी में भिगो दे उसे पानी में एक दो घंटे रहने दे। उसके बाद खीरे के तीन चार टुकड़े सौंफ में मिलाकर उसकी पेस्ट तैयार कर ले। सौंफ और खीरे का पेस्ट आँखों पे लगाने से आँखों में आई कमजोरी में सुधार आता है। 

   ये अपनी आँखों को ठंडक पोहचता है और अपनी आँखों को फ्रेश रखता है। इस सौंफ और खीरे की पेस्ट को इस्तेमाल करने से पहले आप उस पेस्ट को थोड़ी देर फ्रीज में रखे इससे पेस्टओर ठंडी होगी और आँखों को ओर भी ठंडक मिलेगी।
    पेस्ट को लगाने से पहले अगर आप आँखों की मसाज करते हो तो आँखों में ओर भी सुधर दिखेगा। मसाज के लिए आप बादाम के तेल का इस्तेमाल कर सकते हो। याद रहे बादाम का तेल 100% शुद्ध,एक्स्ट्रा वर्जिन और कोल्ड प्रेस  होना चाहिए। अपनी उंगलिओ पर  तेल ले के हलके से उंगलिओ को आँखों के ऊपर फिराए। अच्छी तरह मसाज करे। मसाज से आँखों में ब्लड सुरक्युलेसन बढ़ता है ओर अपनी आंखे ओर भी तेज बनती है। ये प्रक्रिया 10 से 15 मनिट तक करे।
    मसाज के बाद आप उस पेस्ट को अपनी आँखों पे लगाए। जिन लोगो को आँखों की कमजोरी की वजह से सरदर्द रहता है और जिसे दूर या नजदीक का अच्छी तरह से दिखाई नहीं देता उसे ये नुस्खा हफ्ते में दो तीन बार रात को सोने से पहले करना चाहिए। ये नुस्खा आँखों की कमजोरी को दूर तो करता है लेकिन उसके साथ-साथ ये आँखों में चमक भी लाता है और आँखों के निचे जो काले सर्कल  होते है उसे भी दूर कर देता है।
2. काजू ,बादाम,अखरोट अदि अपनी आँखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है।
badam,kaaju or okhrot

लेकिन उसका सही तरह से उपयोग करने से ही आपको फायदा होगा। इन सभी प्रकार के ड्राई फ्रूट में से पूरी मात्रा में नूट्रियन प्राप्त करने के लिए ड्राई फ्रूट को कुछ समय पानी में डूबा रखने के बाद खाए। उससे परिणाम बहुत जल्द नजर आने लगता है। पांच काजू,पांच बादाम और एक अखरोट को पानी में गला कर रखे, उनका सेवन  शाम के समय करे। परिणाम जल्द ही मिलेगा। 

आँखों के चस्मा जल्दी दूर करने का उपाय।

- 1.  सबसे पहले सुबह उठ कर आप अपनी मुँह की लाळ को अपनी आँखों पे लगाना है। ये बाशी लाळ बहुत ही गुणकारी होती है। ये सब करने से आपकी रौशनी आने लगती है और अगर आपकी आँख में जलन और आपकी आँख लाल दिखती है तो वो उसे भी ठीक कर देती है।

- 2. आपको बादाम,सक्कर और सौंफ का मिश्रण तैयार करना है। सबसे पहले आप इन तीनो चीजों का अलग-अलग पावडर तैयार कीजिए। उसके बाद उन तीनो चीजों के पावडर को मिलाकर अच्छी तरह मिक्ष कीजिए। अब उस मिश्रण में से एक चम्मच लेकर आपको सुबह में नास्ते के बाद दूध के साथ लेना है ,इसी तरह शाम को भी सोने से पहले दूध के साथ एक चम्मच लेना है। 

- 3. आपको अपनी आँखों को एक्सेर्साइस  करवानी है। निचे दिए गए चित्र के अनुसार आप अपनी आँखों को एक्सेर्साइज़ करवाइए। ये एक्सेर्साइज़आप जब भी फ्री हो तब कर सकते हो। 
aankho ki exersice
        

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ